वर्ल्ड ओबेसिटी डे आज:मोटापे का कनेक्शन सिर्फ खानपान से नहीं, तनाव और अधूरी नींद से भी बढ़ता है वजन, जानिए, इससे जुडे 5 मिथ और उनकी सच्चाई

ग्लोबल रिपोर्ट:2050 तक दुनिया के हर 4 में से एक शख्स बहरेपन से जूझ सकता है, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने किया अलर्ट
April 30, 2014
डेल स्टेन को IPL नहीं PSL पसंद:साउथ अफ्रीका के फास्ट बॉलर ने कहा IPL में क्रिकेट की जगह बड़े नाम और पैसे पर जोर
May 3, 2014

वर्ल्ड ओबेसिटी डे आज:मोटापे का कनेक्शन सिर्फ खानपान से नहीं, तनाव और अधूरी नींद से भी बढ़ता है वजन, जानिए, इससे जुडे 5 मिथ और उनकी सच्चाई

दुनियाभर में हर साल 28 लाख मौतें सिर्फ मोटापे के कारण हो रही हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) कहता है, पिछले 45 सालों में मोटापा बढ़ने की दर 3 गुना हो गई है। 2025 तक 27 लाख युवा ओवरवेट हो जाएंगे।

आज वर्ल्ड ओबेसिटी डे है। इस मौके पर मोटापे से जुड़ी ऐसे बाते जानना जरूरी हैं जो आपको हमे कंफ्यूज करती हैं। जानिए, मोटापे से जुड़े 5 मिथ और उनकी सच्चाई…

मिथ: मोटापा सिर्फ गलत खानपान और लाइफस्टाइल से बढ़ता है।

सच: मोटापे के ज्यादातर मामलों की वजह अनहेल्दी फूड और एक्सरसाइज न करना है। लेकिन, इसकी और भी कई वजह हैं। जैसे तनाव में रहना, नींद पूरी न लेना, दवाएं, फैमिली हिस्ट्री और हार्मोनल प्रॉब्लम। कई मामलों ये फैक्टर भी मोटापे के लिए जिम्मेदार होते हैं।

मिथ: मोटापा कम करने से सभी बीमारियां ठीक हो जाती हैं।

सच: यह बात पूरी तरह से सही नहीं है। वजन बढ़ने पर कई तरह की बीमारियां बढ़ने का खतरा भी बढ़ जाता है। जैसे हार्ट डिसीज, डायबिटीज। कई बार वजन को घटाने पर मसल लॉस भी हो सकता है। मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है और कई पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। इसलिए, वजन को किसी एक्सपर्ट की देखरेख में ही घटाना बेहतर विकल्प है।

मिथ: सुबह का नाश्ता न लेने पर वजन तेजी से घटता है।

सच: कई रिसर्च में यह साबित हो चुका है नाश्ता करने या न करने से वजन घटने का कनेक्शन नहीं है। शरीर की चर्बी को घटाने के लिए फिजिकल एक्टिवटी करना बेहद जरूरी है। सुबह का नाश्ता जरूर करना चाहिए। यह दिनभर की एनर्जी के लिए जरूरी है। ऐसा न करने पर शरीर में कमजोरी आ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *