CSK को चैम्पियन बनाने वाले रंदीव बने बस ड्राइवर:10 साल पहले सहवाग को शतक नहीं बनाने दिया था; भारत के खिलाफ सीरीज में ऑस्ट्रेलिया की मदद भी की

डेल स्टेन को IPL नहीं PSL पसंद:साउथ अफ्रीका के फास्ट बॉलर ने कहा IPL में क्रिकेट की जगह बड़े नाम और पैसे पर जोर
May 3, 2014
विंडीज ने श्रीलंका को 4 विकेट से हराया:अकीला ने हैट्रिक ली, उनके अगले ओवर में पोलार्ड ने 6 छक्के लगाए, युवी के बाद दूसरे बैट्समैन बने
May 5, 2014

CSK को चैम्पियन बनाने वाले रंदीव बने बस ड्राइवर:10 साल पहले सहवाग को शतक नहीं बनाने दिया था; भारत के खिलाफ सीरीज में ऑस्ट्रेलिया की मदद भी की

श्रीलंका के पूर्व क्रिकेटर सूरज रंदीव अब बस ड्राइवर बन गए हैं। वे फिलहाल ऑस्ट्रेलिया में हैं और ड्राइवर के साथ-साथ एक लोकर क्लब के लिए क्रिकेट भी खेलते हैं। बस चलाते हुए उनकी एक फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। उन्होंने भारत के खिलाफ हाल ही में खेलने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम की भी मदद की थी। रंदीव ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को नेट में बैटिंग प्रैक्टिस कराई थी।

रंदीव 2011 के वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची श्रीलंकाई टीम का हिस्सा भी रहे चुके हैं। वहीं, 2012 IPL में चैम्पियन में बनी चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) का भी हिस्सा रहे थे। उन्हें पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग को सेंचुरी नहीं बनाने देने के लिए भी जाना जाता है।

पैटिंसन और सिडल जैसे क्रिकेटर के साथ खेलते हैं रंदीव
रंदीव ने अपने नए प्रोफेशन की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न स्थित एक फ्रेंच बेस्ड कंपनी से की। उन्हें ट्रांसडेव नाम की कंपनी ने बतौर ड्राइवर बहाल किया है। वे 2019 में ही ऑस्ट्रेलिया पहुंचे थे। वे जिस क्लब के लिए खेलते हैं, उसे विक्टोरिया प्रीमियर क्रिकेट से मान्यता प्राप्त है। जेम्स पैटिंसन और पीटर सिडल जैसे क्रिकेटर भी इस क्लब के लिए खेलते हैं। रंदीव ने श्रीलंका में अपना आखिरी घरेलू मैच अप्रैल, 2019 में खेला था।

2012 में CSK को चैम्पियन बनाने में दिया था योगदान
रंदीव दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट लीग IPL में भी खेल चुके हैं। वे 2012 में चैम्पियन बनी महेंद्र सिंह धोनी की कमान वाली CSK टीम का हिस्सा थे। रंदीव ने उस सीजन में 8 मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने 6 विकेट चटकाए थे। हालांकि, इसके बाद उन्हें कभी IPL खेलने का मौका नहीं मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *